|

क्यों रणवीर सिंह फिल्म पद्मावत की शूटिंग के दौरान, इस सीन के बाद कर बैठते थे उल्टिया !

रणवीर सिंह फिल्म पद्मावत (Ranvir Singh Film Padmavat): संजय लीला भंसाली की फ़िल्म पद्मावत में रणवीर सिंह ने अलाउद्दीन खिलजी का किरदार निभाया था, जिसे शानदार तरीके से निभाकर रणवीर ने इतिहास रच दिया था। इस फ़िल्म में रणवीर की एक्टिंग को देखने के बाद कई लोग उनके फैन हो गए थे। लेकिन क्या आप जानते हैं रणवीर सिंह ने खिलजी का किरदार निभाने के लिए कितनी मेहनत की थी? सीन शूट करते हुए वह बेहोश हो जाते थे, उल्टियां करते थे और उनके गले से आवाज तक चली जाती थी। इसका खुलासा उन्होंने खुद एक इंटरव्यू में किया था। चलिए आपको आगे आर्टिकल में बताते है की रणवीर सिंह को और क्या-क्या चॅलेंजिस फेस करने पड़े थे।

क्यों रणवीर सिंह फिल्म पद्मावत की शूटिंग के दौरान, इस सीन के बाद कर बैठते थे उल्टिया !
क्यों रणवीर सिंह फिल्म पद्मावत की शूटिंग के दौरान, इस सीन के बाद कर बैठते थे उल्टिया !

रणवीर सिंह फिल्म पद्मावत की शूटिंग के दौरान किये चौंकानेवाले खुलासे !

एक इंटरव्यू में रणवीर सिंह फ़िल्म पद्मावत में अपने खिलजी के रोल को लेकर कई खुलासे किए थे। उन्होंने बताया था कि फ़िल्म में ऐसे कई सीन थे, जिससे उन्हें फिजिकल चैलेंज का सामना करना पड़ा था। जब कोई संजय लीला भंसाली के साथ काम करता है तो वो अपना बेस्ट देने की कोशिश करता है और मैंने भी ऐसा ही किया था। रणवीर ने बताया कि शाहिद यानी राजा रतन सिंह से युद्ध और खलीबली गाने के दौरान तो उन्हें ऐसा लगा था कि उनके पैर ही नहीं है। इस सीन को पूरा करने के बाद वो जमकर उल्टियां करते थे। रणवीर ने बताया कि शूटिंग के दौरान इतनी गर्मी थी कि 1 मिनट भी चैन नहीं मिलता था। एक्टर ने बताया था कि जौहर वाले सीन की शूटिंग के दौरान तो ऐसा लगा था कि अभी कट बोला जाए और वह उल्टियां कर देंगे।

रणवीर सिंह फिल्म पद्मावत की शूटिंग के दौरान किये चौंकानेवाले खुलासे !
रणवीर सिंह फिल्म पद्मावत की शूटिंग के दौरान किये चौंकानेवाले खुलासे !

45 डिग्री तापमान में रणवीर सिंह फिल्म पद्मावत की करते थे शूटिंग

फ़िल्म पद्मावत की शूटिंग कई महीने में हुई थी। 45 डिग्री तापमान में फिल्म सिटी में शूटिंग करना बेहद मुश्किल था। इसके अलावा रणवीर ने फ़िल्म में 12 किलो का कॉस्टयूम पहना हुआ था। कई सीन तो ऐसे थे जहाँ रणवीर को लगातार दौड़ना था। ऐसे सीन करने के बाद आँखों के आगे अंधेरा छा जाता था और वह बेहोश हो जाते थे। इतना ही नहीं फ़िल्म में चीखने चिल्लाने के कई सीन है। इसको करने के बाद रणवीर की आवाज तक चली जाती थी। रणवीर सिंह हमेशा अपनी एक्टिंग को लेकर काफी सीरियस रहते हैं और वे अपने किरदार में किसी भी तरह की गलती पसंद नहीं करते हैं। और इस वजह से वो किसी भी चैलेंज को लेने से नहीं डरते थे।

Also Read: शादी के इतने सालो बाद भी दीपिका पादुकोण क्यों नहीं बन पायी है माँ, दीपिका ने प्रेगनेंसी को लेकर किया खुलासा..

Share

Similar Posts

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *