Magh Mahina 2023 in Hindi: जाने माघ माह का महत्व, इंद्र की गंगा स्नान से श्राप मुक्ति

Mythology Story of Magh Month: हिन्दू पंचांग के अनुसार माघ मास शनिवार, 7 जनवरी, 2023 से प्रारंभ हुआ और 5 फरवरी, 2023 को समाप्त होगा। यह हिन्दू पंचांग का 11वां महीना है, जो अत्यंत पवित्र है। इस स्नान मास में संत महात्मा एवं गृहस्थ तीर्थराज प्रयागराज संगम तट पर नियमित रूप से संगम स्नान करते हैं। कहा जाता है कि देवताओं के राजा इंद्र ने इस महीने के दौरान पूरे महीने गंगा में स्नान करके अपनी गलती का प्रायश्चित किया था।

Magh Mahina 2023 in Hindi: जाने माघ माह का महत्व, इंद्र की गंगा स्नान से श्राप मुक्ति

Magh Mahina 2023 in Hindi: क्यों है माघ माह का महत्व, गंगा स्नान से देवराज ने पायी श्राप से मुक्ति

माघ माह का महत्व एवं पौराणिक कथा

पौराणिक कथा के अनुसार, इंद्रदेव ने बुरी नीयत से गौतम ऋषि का रूप धारण किया और ऋषि की पत्नी अहिल्या के पास पहुंचे, जिन्होंने उन्हें गौतम ऋषि भी समझा। गौतम ऋषि, एक तपस्वी, के पास दिव्य दृष्टि थी और वे सब कुछ जान बैठे और इंद्र को श्राप दे दिया। देव राज इंद्र ने शमा मांगते हुवे श्राप मुक्ति का उपाय पूछा।

माघ माह का महत्व एवं पौराणिक कथा
माघ माह का महत्व एवं पौराणिक कथा


तब ऋषि ने दया करके बताया कि श्राप कैसे तोड़ा जाए। गौतम ऋषि के अनुसार पूरे महीने गंगा में स्नान करने से आपके द्वारा किए गए पापों से मुक्ति मिल जाएगी। इंद्रदेव ने गौतम ऋषि के अनुरोध पर माघ के पूरे महीने गंगा में स्नान किया और अपने पापों से मुक्त हो गए। जब गौतम ऋषि ने अपनी पत्नी अहिल्या को पत्थर होने का श्राप दिया तो वह भी क्षमा मांगने लगी। तब उन्होंने कहा कि श्री राम त्रेतायुग में अवतार लेंगे जब वे यहां आकर स्पर्श करेंगे। तत्पश्चात त्रेता युग में जब श्री राम वनवास में थे, तब वे माता अहिल्या का स्पर्श कर पत्थर से मानव रूप में लौट आए थे।

 माघ माह के त्योहार और तिथि

Date / तारीखDay / दिनFestival / त्यौहार
10 जनवरीमंगलवारसंकष्टी गणेश चतुर्थी
13 जनवरीशुक्रवारलोहड़ी
14 जनवरीशनिवारमकर संक्रांति, खरमास का समापन
18 जनवरीबुधवारषटतिला एकादशी
20 जनवरीशुक्रवारमासिक शिवरात्रि व्रत
21 जनवरीशनिवारमौनी अमावस्या
22 जनवरीरविवारमाघ मास के शुक्लपक्ष का प्रारंभ
25 जनवरीबुधवारवैनायकी गणेश चतुर्थी
26 जनवरीगुरुवारवसंत पंचमी, सरस्वती पूजन
01 फरवरीबुधवारजया एकादशी
03 फरवरीशुक्रवारप्रदोष व्रत
05 फरवरीरविवारमाघी पूर्णमासी
magh month 2023 start and end date

यह भी पढ़े:: महा शिवरात्रि 2023 – शिवरात्रि पर यह बिलकुल न करे वरना महादेव..

Similar Posts