हरियाली तीज 2021 कब है, तिथि, पूजा विधि, महत्व

Share करें
हरियाली तीज 2021 कब है, तिथि, पूजा विधि, महत्व (1)
हरियाली तीज 2021 कब है, तिथि, पूजा विधि, महत्व

हरियाली तीज का महत्व

हरियाली तीज: वैसे तो सावन का महीना ऐसा है, इसकी हर तिथि अपने आप में विशेष है, परंतु तीज त्योहार शब्द ही तीज से बना है और इस मास में आने वाली तीज और पंचमी यानी की हरियाली तीज और नाग पंचमी अपने आप में विशेष महत्व रखते हैं।

खासतौर से बता देना चाहूंगा। मित्रों जिन कन्याओं के विवाह में अड़चनें आ रही है या उनका विवाह अभी संपन्न नहीं हो पा रहा, जबकि वह विवाह उत्सुक है।

तो उनको क्या उपाय कर लेना चाहिए? इस विषय में आपको यह जानकारी देने जा रहे है ,तो वे कन्याएं और उनके माता पिता यह जानकारी को विशेष तौर पर पढ़े और शेयर भी करें यह जानकारी को ताकि यह जानकारी उन तक पहुँच सके जिनके लिए यह लाभकारी है।

हरियाली तीज के उपाय

मित्रों सीधे आ जाते है, उस उपाय को जो हमें करना है, करना हमें यह है, कि वह कन्या जो विवाह उत्सुक हैं। जिसका विवाह किया जाना है, वह सबसे पहले 16 शृंगार इकट्ठे कर लें और इन 16 श्रृंगारों को जो कि सदा सुहागन रहने का आशीर्वाद माँ पार्वती से मांगना हैं, उन्हें लेकर शिव मंदिर में पहुँच जाए और माता पार्वती को उपहार स्वरूप प्रदान करदे।

उसके बाद वही चौकड़ी मारकर बैठ जाएं और भगवान शिव से। और माँ पार्वती से ओम नमः शिवाय ओम नमः शिवाय के 108 बार जाप करके भगवान शिव से और माँ पार्वती से ऐसी कामना करनी है, कि है माँ पार्वती जैसे आपने अपने मनवांछित वर को पाया, मुझे भी एक सुयोग्य वर प्रदान करें और ऐसा कर लेने से मित्रों, आपकी कन्या को ऐसा वरदान प्राप्त हो जाएगा कि इसी वर्ष उसकी शादी हो जाएगी, विवाह उसका अब संपन्न हो जाएगा।

विवाह में आ रही अड़चनें अब दूर हो जाएगी और इसी वर्ष आप अपनी कन्या का कन्यादान कर पाएंगे। ये त्यौहार हम सुहाग के लिए मनाया करते हैं, और जिन महिलाओं का विवाह हो चुका है, वह इस त्यौहार को बहुत ही धूमधाम से मनाया करती है। 16 शृंगार किया करती हैं। हरी हरी चूड़ियां पहनकर अपनी सहेलियों के संग झूला झूलते हुए गाना गाया करती है।

हरियाली तीज 2021 कब है

मित्रों बता देना चाहूंगा कि इस साल 11 अगस्त 2021 को तीज हरियाली तीज का त्योहार पड़ रहा है। जिसकी तिथि 10 अगस्त को शाम को 6:05 से ही लग जाएगी और तीज तिथि रहेंगी। 11 अगस्त दोपहर 2:06 तक।