जाने प्रेम मंदिर का इतिहास | Prem Mandir History in Hindi

Share करें
जाने प्रेम मंदिर का इतिहास Prem Mandir History in Hindi
जाने प्रेम मंदिर का इतिहास Prem Mandir History in Hindi

जाने प्रेम मंदिर का इतिहास | Prem Mandir History in Hindi

उत्तर प्रदेश के राज्य मथुरा जिले के वृंदावन में एक हिंदू मंदिर है, जिसका नाम प्रेम मंदिर है। यह मंदिर भगवान कृष्ण और राधा के रूप में निर्मित किया गया है। जगतगुरु कृपालु महाराज के द्वारा इसे निर्मित किया था। इस मंदिर को बनाने की शुरुआत 14 जनवरी 2001 को की गई थी और इसे बनाने में 11 वर्ष का समय लगा था। इसके निर्माण में 100 करोड़ से ज्यादा की धनराशि लगी थी। इसको बनाने में राजस्थान और उत्तर प्रदेश के 1000 शिल्पकारों का भोग है। इस मंदिर की रचना में इटालियन करारा संगमरमर का प्रयोग किया गया था। यह मंदिर दिल्ली, आगरा, कोलकाता के राष्ट्रीय राजमार्ग 2 के छटीकरा से लगभग 3 किमी दूर वृंदावन की ओर भक्तिवेदांत स्वामी मार्ग पर स्थित है।

इस मंदिर के निर्माण में 54 एकड़ जमीन लगी है।

ऊंचाई  124 फुट

लंबाई   122 फुट

चौड़ाई  114 फुट

यह मंदिर राधा कृष्ण के दिव्य प्रेम का प्रतीक है। इसमें कृष्ण लीला कथा राधा कृष्ण लीलाओं को अनेक झंखिया बनाई गई है। इस मंदिर के द्वार चारो दिशाओं में खुलते है।

सभी जातियों के लिए यह मंदिर खुला रहता है। इस मंदिर में फव्वारे लगे हुए है, तथा भगवान कृष्ण की लीलाएं जैसे की गोवर्धन लीला, कालिया नाग लीला, झूलन लीला जेसी अनेक लीलाओं की झांकियां सजाई गई है।

श्री कृष्ण अनुसार समझे ”योगः कर्मसु कौशलम” का अर्थ | Yogah Karmasu Kaushalam Meaning in Hindi

प्रेम मंदिर का इतिहास राधा कृष्ण की लीलाओं को पूरे मंदिर के बाहरी दीवारों पे बनाया गया है। इस मंदिर के मुख्य द्वार पर आठ मयूरो के नक्शीदार तोरण लगाए गए है। इसकी अंदर की दीवारों में कृपालु महाराज की झांकियां भी बनाई गई है।

इस मंदिर में 94 स्तंभ बनाए गए है और इस स्तंभों पर राधाकृष्ण की लीलाओ की झांकियां दिखाई गई है, तथा गोपियों की मूर्तियां भी बनाई गई है। इस मंदिर में एक गर्भगृह बनाया गया है, जिसमे अंदर और बाहर श्रेष्ठ नक्शीकाम किया गया है। इसके संगमरमर की शिलाओं पर राधा कृष्ण के गाने लिखे गए है।

प्रेम मंदिर एक अत्यंत आध्यात्मिक मंदिर है। इसमें रखी राधा कृष्ण की मूर्ति के दर्शन मात्र से भक्तो को अत्यंत शुकून और शांति मिलती है। इस मंदिर में राधा कृष्ण की मूर्ति के सामने बैठकर ध्यान करने की भी व्यवस्था है। इस मंदिर के चारो तरफ कृष्णमई माहोल बना रहता है। मंदिर में बनाई गई राधा कृष्ण लीला की छवियां अत्यंत मोहित करने वाली है।

कृष्ण की बचपन की कहानी संपूर्ण | श्री कृष्ण लीला

राधा रानी मंदिर बरसाना | Barsana Temple History in Hindi

मनसा देवी मंदिर का इतिहास | Mansa Devi Temple in Hindi