9 शक्तिशाली माँ काली को बुलाने का मंत्र अर्थ सहित – Kaali Mantra in Hindi

9 शक्तिशाली माँ काली को बुलाने का मंत्र अर्थ सहित – Kaali Mantra in Hindi

9 शक्तिशाली माँ काली को बुलाने का मंत्र अर्थ सहित – Kaali Mantra in Hindi तांत्रिकों के अनुसार माँ काली को बुलाने का मंत्र का जाप करने से व्यक्ति के जीवन के सभी संकट, कष्ट तुरंत दूर हो जाते हैं। मां कालिका का स्वरूप भक्तों के लिए भयावह से अधिक मनोरम और रमणीय भी है।…

जानिए वेद क्या है? संपूर्ण जानकारी | 4 Vedas in Hindi

जानिए वेद क्या है? संपूर्ण जानकारी | 4 Vedas in Hindi

वेद हिंदू धर्म के प्राचीनतम और पवित्र ग्रंथ माने जाते है। वेदों को समझना इतना आसान नहीं है, इसीलिए वेदों को कही विभागों में बाटा गया और बाद में इसे समाज के कल्याण के लिए लिखित किया गया। जिससे मानव जाती इसे आसानीसे समज सके। ऐसे में हमारे मन में कही सवाल उठते है, की…

जाने गरुड़ पुराण क्या है? गरुड़ पुराण की 7 महत्वपूर्ण बातें

जाने गरुड़ पुराण क्या है? गरुड़ पुराण की 7 महत्वपूर्ण बातें

गरुड़ पुराण क्या है? गरुड़ पुराण में क्या लिखा है? शास्त्रों में बताया गया है कि जीस किसी ने भी जन्म लिया है वो एक न एक दिन मृत्यु को अवश्य ही प्राप्त होता है। ऐसे में हमारे हिन्दू धर्म में मृत्यु के बाद की कुछ परंपराएं ऐसी होती हैं, जिनका पालन मृतक के परिवार…

श्री कृष्ण अनुसार समझे ”योगः कर्मसु कौशलम” का अर्थ | Yogah Karmasu Kaushalam Meaning in Hindi

श्री कृष्ण अनुसार समझे ”योगः कर्मसु कौशलम” का अर्थ | Yogah Karmasu Kaushalam Meaning in Hindi

श्रीमद भगवत गीता से समझे ”योगः कर्मसु कौशलम” का अर्थ | Yogah Karmasu Kaushalam Meaning in Hindi ”बुद्धियुक्तो जहातीह उभे सुकृतदुष्कृते तस्माद्योगाय युज्यस्व योगः कर्मसु कौशलम्” आज हम “योगः कर्मसु कौशलम” का अर्थ समझते है। तो आइये इसके संदर्भ को जानते हैं। यह श्रीमद भगवत गीता का श्लोक है, और बहुत ही प्रसिद्ध श्लोक हैं।…

श्री दुर्गा सप्तशती पाठ कैसे करें जाने संपूर्ण जानकारी

श्री दुर्गा सप्तशती पाठ कैसे करें जाने संपूर्ण जानकारी

नवरात्र में हम माता की पूजा आराधना में रहते हैं, घट स्थापना करते हैं, और विधिवत माँ का पूजन करते हैं। नवरात्र के 9 दिन माता की उपासना के दिन होते हैं, शक्ति पूजन के दिन होते हैं, और ऐसे में हम तमाम भक्त कोशीश यही करते हैं, कि अपनी पूजा आराधना से माँ को…

जाने दुर्गा सप्तशती पाठ के चमत्कार | दुर्गा सप्तशती पाठ का फल

जाने दुर्गा सप्तशती पाठ के चमत्कार | दुर्गा सप्तशती पाठ का फल

जाने दुर्गा सप्तशती पाठ के चमत्कार | दुर्गा सप्तशती पाठ का फल दुर्गा सप्तशती एक ऐसा वरदान है, एक ऐसा प्रसाद है, जो भी प्राणी इसे ग्रहण कर लेता है। वह प्राणी धन्य हो जाता है। जैसे मछली का जीवन पानी में होता है, जैसे एक वृक्ष का जीवन उसके बीज में होता है, वैसे ही…

सावन मास में क्या करें क्या ना करें? Savan Vrat 2021

सावन मास में क्या करें क्या ना करें? Savan Vrat 2021

तो आज हम आपसे बात करने वाले हैं, कि अगर आप पूरे सावन मास का व्रत रखना चाहते हैं, तो व्रत के कौन से नियम होते हैं, जिनका आपको पालन करना चाहिए। सावन मास में आपको क्या करना चाहिए, क्या नहीं करना चाहिए, क्या खाना चाहिए, क्या नहीं खाना चाहिए, कब खाना चाहिए और भगवान…

श्री विष्णु 108 नामावली मंत्र अर्थ के साथ

श्री विष्णु 108 नामावली मंत्र अर्थ के साथ

श्री विष्णु 108 नामावली मंत्र अर्थ के साथ संस्कृत नाम मंत्र अर्थ 1. विष्णु ॐ विष्णवे नमः। सर्वोत्तम भगवान् 2. लक्ष्मीपति ॐ लक्ष्मीपतये नमः। देवी लक्ष्मी के पति 3. कृष्ण ॐ कृष्णाय नमः। श्याम 4. वैकुण्ठ ॐ वैकुण्ठाय नमः। भगवान विष्णु का घर 5. गरुडध्वजा ॐ गरुडध्वजाय नमः। भगवान विष्णु का नाम 6. परब्रह्म ॐ…

विवाह कितने प्रकार के होते हैं?

विवाह कितने प्रकार के होते हैं?

प्राचीन हिन्दू विवाह के प्रकार शास्त्रों में विवाह के आठ प्रकार बताए गए हैं, जिनमें पहले चार विवाह प्रशंसनीय है, और बाकी के चार विवाह निंदनीय माने गए हैं। तो आज हम बात करेंगे की कौन से आठ विवाह है और कौन से विवाह कितने प्रशंशनीय और कौन से निंदनीय बताये गए है। तो अंत…

राजसूय यज्ञ क्यों किया जाता था ? Rajsuya Yagya

राजसूय यज्ञ क्यों किया जाता था ? Rajsuya Yagya

राजसूय यज्ञ क्यों किया जाता था ? Rajsuya Yagya राजसूय यज्ञ (Rajsuya Yagya) एक वैदिक काल से चला आ रहा एक यज्ञ समारोह है।  इसका वर्णन यजुर्वेद में किया गया है। जिन प्राचीन राजाओ ने यह यज्ञ किया था, वे राजा हरिश्चंद्र, श्री राम, धर्मराज युधिष्ठिर और सभी प्रमुख बड़े राजाओ द्वारा किया गया था।…

जानिए साम दाम दंड भेद का अर्थ | Meaning of Saam Daam Dand Bhed

जानिए साम दाम दंड भेद का अर्थ | Meaning of Saam Daam Dand Bhed

साम दाम दंड भेद का अर्थ : Meaning of Saam Daam Dand Bhed साम दाम दंड भेद की निति हमारे प्राचीन समय से चली आ रही है। जी हां इसका उल्लेख मत्स्य पुराण में भगवन मत्स्य द्वारा किया गया है। और आचार्य चाणक्य ने भी इन चार नीतियों पर चर्चा की है।  अधिकतर जितने भी शक्तिशाली…

महाभारत युद्ध 18 दिन का वृतांत – Mahabharat Yuddh

महाभारत युद्ध 18 दिन का वृतांत – Mahabharat Yuddh

Dhanteras 2021: धनतेरस 2021 में कब है,जाने तिथि, पूजा, महत्त्व मित्रो ! अब हम बात करेंगे महाभारत युद्ध (Mahabharat Yuddh) के 18 दिनों की श्रृंखला की प्रत्येक दिन क्या हुआ, और किस पक्ष को क्या हानि हुई। तो आइए शुरू करते हैं। Diwali 2021: दिवाली 2021 कब है, जाने तिथि, पूजा विधि, कथा      …